A friend from my village . Mere gaon ka sabse priya vyakti

मेरे गांव का मित्र
राजन मेरे गांव का प्रिय मित्र है। वह मेरे गांव में ही रहता है तथा मेरी भी उम्र का है।
वह मेरी ही कक्षा में पढ़ता है और हम इकट्ठे ही स्कूल जाते हैं।
राजन के पिताजी कॉलेज के प्रोफेसर हैं राजन की माताजी स्कूल में अध्यापक हैं। राजन बहुत ही मेहनत करता है। वह अपना होमवर्क बहुत अच्छी तरह से करता है और पढ़ाई में पूरी रुचि लेता है। राजन अच्छे कपड़े पहनता है तथा बहुत अच्छा बर्ताव करता है। वह सभी अध्यापकों की आंखों का तारा है।
राजन एक ईमानदार लड़का है। वह एक विनम्र तथा निर्भय लड़का है। राजन सुबह जल्दी उठ जाता है और मेरे साथ walk करने चलता है। राजन खेलों में भी बहुत अच्छा है। इन सभी कारणों की वजह से मुझे लगता है कि राजन अपनी परिवार का नाम रोशन करेगा। वह परीक्षाओं में बहुत अच्छा प्रदर्शन करता है तथा हर बार प्रथम या द्वितीय स्थान पर रहता है।
राजन मेरा हर तरह से सहयोग करता है और मैं भी उसकी पूरी तरह से मदद करता हूं। राजन अच्छे और बुरे का फर्क जानता है।
राजन को जानवरों से बहुत प्रेम है उसने अपने घर एक खरगोश था एक कुत्ता पाला हुआ है और उनकी अच्छी तरह से देखभाल करता है।
राजन जैसा मित्र होना मेरे लिए गर्व की बात है।

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...