Street Beggars In India Sadak Ka Bhikhari Hindi Nibandh

सड़क का भिखारी

भीख मांगना भारत में अपराध माना जाता है। फिर भी हमें हर जगह भिखारी नजर आ जाते हैं चाहे हम बस अड्डे पर खड़े हो चाहे सड़क पर।
कुछ भिखारी तो बहुत हृष्ट-पुष्ट होते हैं और उन से पीछा छुड़ाना मुश्किल हो जाता है। कुछ भिखारी अंधे तथा अपाहिज भी होते हैं। ऐसे भिखारियों पर लोगों को दया आ जाती है।



भिखारियों की काफी परेशानियां होती हैं। भिखारी ज्यादातर फटे हुए कपड़ों में और फटे हुए जूतों में रहते हैं। उनके बाल हमेशा बिखरे रहते हैं। उनके पास एक भीख मांगने का कटोरा और कई बार एक लाठी भी होती है। भिखारी अकेले या एक छोटा झुंड बनाकर भीख मांगते हैं। भिखारी अपनी दशा के कारण हमसे दया की उपेक्षा करते हैं।
एक भिखारी हमारी गली में रोज सुबह आता है। उसकी टांगे नहीं है तथा वह एक छोटी सी rikshaw में आता है जिसे एक और लड़का खींचता है। वह एक गाना गाकर सब से भीख मांगता है। वह काफी धार्मिक है तथा धार्मिक गाने भी गाता है। इसलिए कुछ लोग उस पर दया करते हैं और उसे पैसे और खाना दे देते हैं। महिलाएं खासकर उसे खाना और कपड़े दे देती हैं।

कुछ भिखारी चोर भी हो सकते हैं तथा वे लोगों को लूट भी सकते हैं। इसलिए हमें भिखारियों से सावधान रहना चाहिए। हमें सिर्फ जरूरतमंद भिखारियों की ही मदद करनी चाहिए। जो भिखारी हृष्ट-पुष्ट हैं उन्हें हमें भीख नहीं देनी चाहिए तथा उन्हें काम करने के लिए समझाना चाहिए।

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 3.33 out of 5)
Loading...