RAJIV GANDHI

RAJIV GANDHI

राजीव गांधीं का जन्म २० अगस्त १९४४ को हुआ । इनकी माता का नाम इंदिरा गांधी था । और इनके दादा जी का नाम पं जवाहर लाल नेहरू था । इनका पूरा नाम राजीव रत्न गांधी था । यह दो भाई थे । इनके भाई का नाम संजय गांधी था । इन दोनों ने अपनी शुरुआती शिक्षा देहरादून के एक अच्छे स्कूल में हुई थी । आगे की पढ़ाई इन्होने लंदन के इम्पीरियल कॉलेज में की और साथ ही कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी से इंजीनिरिंग भी पूरी की । स्वदेश वापिसी के बाद राजीव गांधी ने लाइसेंसी पाइलट के तौर पर इंडियन एयरलाइन्स में काम करना शुरू किया । जब वह कैम्ब्रिज में पढ़ाई कर रहे थे तो उनकी मुलाकात एंटोनिया मैनो से हुई । और विवाह के बाद उनका नाम बदलकर इंदिरा गांधी रखा गया । २३ जून १९८० को जब उनके छोटे भाई संजय गांधी की दुर्घटना में मौत हो गई तब उन्होंने अपनी माता का साथ देने के लिए राजनीती में प्रवेश किया । १९८४ में उनकी माँ की हत्या के बाद उन्होंने अपने आप को पूर्ण रूप से कांग्रेस के प्रति समर्पित नेता बना लिया । वह एक सहनशील और निर्मल स्वभाव के व्यक्ति थे । भारत में गरीबी के स्तर में कमी लाने और गरीबो की आर्थिक दशा को सुधारने के लिए १ अप्रैल १९८९ को इन्होने जवाहर गारंटी योजना को लागु किया जिसके अंतर्गत इंदिरा आवास योजना और दस लाख कुआं योजना जैसे कई कार्यक्रमों की शुरुआत की । श्रीलंका में चल रहे लिट्टे और संघालिओं के बीच युद्ध को शांत करने के लिए इन्होने भारतीय सेना को श्रीलंका में तैनात कर दिया जिसका प्रतिकार करने के लिए लिट्टे ने तमिलनाडु में चुनावी प्रचार के दौरान राजीव गांधी पर आत्मघाती हमला करवा दिया । इस हमले में राजीव गांधी की मृत्यु हो गई ।