Netaji Subhash Chandra Bose Hindi Essay नेताजी सुभाषचन्द्र बोस

Subhash Chandra Bose

Most Important Points about Subhash Chandra Bose

  • Subhash Chandra Bose was born on January 23, 1897 at Cuttack
  • Died: August 18, 1945, Taihoku Prefecture
  • Wife: Emilie Schenkl
  • Children: Anita Bose Pfaff
  • Books by Subhash Chandra Bose: Essential writings of Netaji Subhas Chandra Bose, Subhas Chandra Bose’ agenda for Azad Hind
  • Education: Scottish Church College, Calcutta (1918)

 

 

नेताजी सुभाषचन्द्र बोस का नाम भारत का बच्चा बच्चा जानता है I नेताजी स्व्तन्त्रता संग्राम के अमर सेनानियों में से एक हैं I

नेताजी का जन्म 23 January 1897 को कटक में श्री जानकी दास जी के घर में हुआ I नेताजी बचपन से ही मेधावी छात्र थे I माता प्रभावती और स्वामी विवेकानन्द जी का प्रभाव इन पर बहुत पड़ा I कॉलेज में अंग्रेज प्रोफेसरों के गलत व्यवहार को ये सहन नहीं कर सके और एक अंग्रेज को पीट डाला और नेताजी को 2 साल के लिए कॉलेज से निकल दिया फिर भी 1919 मैं बी ए की परीक्षा प्रथम श्रेणी में पास की I

फिर नेताजी महात्मा गांधी के आंदोलन में शामिल हो गये और इन्हें 6 महीने का कारावास हुआ I 1938 में नेताजी हरिपुरा राष्ट्रीय महासभा (कांग्रेस) के प्रधान चुने गये I 29 जनवरी 1941 को नेताजी चुपके से देश से बाहर चले गये और हिटलर और मुसोलिनी जैसे नेताओं से मिले I फिर नेताजी ने बैंकाक में आजाद हिन्द फ़ौज की स्थापना की और वंहा रहने वाले हिन्दुस्तानियों ने उनकी तन-मन-धन से सहायता की I आजाद हिन्द सेना देश को आजाद करने के लिए भारत की ओर चल पड़ी, अंग्रेज भी आजाद हिन्द सेना से हार मानने लगे I

नेताजी कहते थे “तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा” I जापान के हिरोशिमा और नागासाकी पर परमाणु बम गिराने के साथ ही सारा संसार कांप उठा I आजाद हिन्द फ़ौज को जापान से मिलने वाली सहायता नहीं मिल सकी I जिसके कारण नेताजी की योजना अधूरी रह गयी और आजाद हिन्द फ़ौज के काफी सैनिक बन्दी बना लिए गये I

नेताजी जिस विमान में गये थे, उसका आज तक पता नहीं लगा I ऐसा कहते हैं कि विमान दुर्घटना में नेताजी की मृत्यु हो गयी I जो भी हो आज भी हम भारतवासियों के मन में नेताजी हमेशा जिन्दा रहेंगे और मन में सदा उनके लिए सम्मान रहेगा I