Indian Farmer Bhartiya Kisan Hindi Nibandh Essay

भारतीय किसान
भारतीय किसान हमारी अर्थव्यवस्था की रीड की हड्डी की तरह काम करता है किसानों के महत्व को किसी भी तरह कम नहीं आंका जा सकता किसान हमारे लिए फल सब्जियां उगाते हैं
भारतीय किसान एक मेहनतकश आदमी होता है वह सुबह से लेकर रात तक धूप, गर्मी तथा ठंड में काम करता है सुबह जल्दी उठकर उसे अपने हल जोतने होते हैं वह बीज डालता है तथा पौधों को पानी देता है
किसानों को अपनी फसलों का ध्यान रखना पड़ता है तथा उन्हें जंगली जानवरों और पक्षियों से भी बचाना होता है किसान को कोई भी छुट्टी नहीं मिलती
दोपहर में उसे एक पेड़ की छांव में ही अपना खाना खाकर कुछ आराम मिलता है
शाम को वह थक हारकर घर लौटता है
किसान एक बहुत ही सादा जीवन व्यतीत करते हैं
किसान साधारण से घरों में रहते हैं तथा सादा खाना खाते हैं
किसान ज्यादातर बहुत पढ़े-लिखे नहीं होते
किसानों के लिए उनके जानवर बहुत कीमती होते हैं
यदि कभी सूखा पड़े या फसल अच्छी ना हो तो किसान बहुत दुखी होता है
जब फसल तैयार होती है तो किसान बहुत खुश होता है
किसान अपनी फसल को काटता है, उसे साफ करता है और मंडी में बेचने के लिए ले जाता है
अगर फसल अच्छी ना हो तो उसके पास बीज और खाद खरीदने के लिए बहुत कम पैसा बचते है
कई बार तो किसानों को उधार लेना पड़ता है
कुछ समय से बैंकों ने किसानों को ऋण उपलब्ध करा कर उनके लिए बीज तथा खाद खरीदना आसान बना दिया है