Hindi Essay on Dr. APJ Abdul Kalam

डॉक्टर ए.पी.जे अब्दुल कलाम -Hindi Essay on

Dr. APJ Abdul Kalam

डॉक्टर ए.पी.जे अब्दुल कलाम भारत के ११वे निर्वाचित राष्ट्र्पति और एक प्रख्यात वैज्ञानिक थे। इनका जनम १५ अक्टूबर १९३१ को भारत के तमिलनाडु राज्य के रामेश्वर में एक माध्यम वर्ग परिवार में हुआ।

इन्हे मिसाइल मैन के नाम से भी जाना जाता है । डॉक्टर कलाम ने १९५० में तिरुचिरापल्ली से अपनी स्नातक की उपाधि प्राप्त कि । फिर इन्होने १९५४-१९५७ तक एम.आई.टी से एयरोनॉटिकल का डिप्लोमा किया। १९५८ में कलाम को डी.टी.डी. एंड पी में तकनिकी केंद्र में वरिष्ठ वज्ञानिक सहायक के पद पे नियुक्त किया गया।

१९८० और १९९० में इन्हे पदम भूषण की उपाधि से सम्मानित किया गया और १९९७ में भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान “भारत रतन ” से सम्मानित किया गया । २५ जुलाई २००२ में डॉक्टर कलाम ने भारत के राष्ट्रपति के रूप में शपत ग्रहण की । अपने कार्यकाल के दौरान इन्हे “जनता का राष्ट्रपति ” भी कहा गया ।

डॉक्टर कलाम अविवाहित थे। वो वैज्ञानिक होने के साथ साथ लेखक भी थे। इनके दवारा लिखी गई दो पुस्तुकेँ भी प्रकाशित हुई है इनमे “इंडिया 2020” और “विंग्स ऑफ़ फायर एंड ऑटोबायोग्राफी ” शामिल है। विश्व के जाने माने वैज्ञानिको में से डॉक्टर कलाम का नाम बड़े आदर अहित लिए जाता है।

सोमवार २७ जुलाई २०१५ को शिलांग में भारतीय प्रबंध संस्थान में लेक्चर देते अचानक हृदयघात के कारण उनकी मृत्यु हो गई। ३० जुलाई २०१५ को पुरे सैन्य सम्मान के साथ रामेश्वर में उनका अंतिम संस्कार किया गया ।