Hindi Essay on Christmas

Christmas Hindi Essay Christmas December 25

क्रिसमिस | Christmas

क्रिसमिस इसाई धर्म का एक बहुत बड़ा त्योहार है जिसे ये लोग बड़ी धूमधाम और उल्लास से मनाते है । ये हर साल २५ दिसंबर को मनाया जाता है। इस दिन प्रभु इशू-मसीह या जीसस क्राइस्ट का जनम हुआ था ।

About Jesus Christ

इशू-मसीह एक बड़े महान व्यक्ति थे ।
इनके बारे में ये धारणा है की ये मदर मरियम के पुत्र थे जिनका जन्म एक अस्तबल में हुआ था । वहां के जानवरो को इशू के जन्म क बारे में फरिश्तों ने पहले ही बता दिया था । इन्हे ईश्वर का एकलौता प्यारा पुत्र माना जाता है। इशू ने लोगो में प्रेम और एकता का सन्देश फैलाया था जिस कारण उनकी लोकप्रिता बढ़ने लगी परतुं उस समय के शासको को ये बात पसंद नही थी इसलिए उन्होंने ईसा को सूली पे लटका दिया जिस वजह से उनकी मृत्यु हो गई । पर मन जाता है की ४० दिन बाद ईसा फिर जी उठे थे। इसके बाद इसाई धर्म पुरे देश में फैलने लग गया ।

Christmas Tree & Christmas Celebrations

क्रिसमिस वाले दिन लोग अपने घर को खूब सजाते है । इस दिन क्रिसमिस ट्री लगाया जाता है जिसे छोटे छोटे उपहारों और लाइट्स के साथ सजाया जाता है। इस त्योहार से कुछ दिन पहले ही लोगो को छुटियाँ हो जाती है । इस दिन सब एक दूसरे को उपहार देते है। इस दिन केक काट के एक दूसरे को खिलाने की परंपरा है । इस दिन चर्च को भी बहुत अछि तरह सजाया जाता है और इस दिन तरह-तरह की प्राथनाये होती है। इस दिन देर रात तक लोग पार्टी करते है। इस दिन कोई व्यक्ति सांता क्लॉज़ का रूप धार के बच्चो को उपहार बाँटता है।