EKTA KA MAHATVA – Importance of Unity – Unity Is Strength Hindi Paragraph

EKTA KA MAHATAV | Unity Is Strength

हमारा भारत एक विशाल देश है । हमारा भारत अनेक प्रकार की सांस्कृतिक ,धार्मिक और आध्यात्मिक घटनाओं का उथान -पतन से भरा हुआ है ।भारत एकता में अनेकता का देश है । भारत देश अनेक प्रकार की जातियाँ ,अनेक प्रकार की भाषाएँ तथा अनेक प्रकार की संस्कृति है । इन सब के बावजूद भारत एक सुसंगठित देश है ।

एकता हमारे देश की पहचान है । एकता वीरता और बलिदान को बढ़ावा देती है । जीवन के प्रत्येक भाग में एकता कूट -कूट कर भरी है । एक लकड़ी के टुकड़े को एक छोटा बच्चा भी थोड़ सकता है परन्तु यदि बहुत सारी लकड़ियाँ इकठी कर दी जाएँ तो उसे बड़े से बड़ा आदमी भी नही तोड़ सकता । एकता का एक शानदार उदाहरण हमें चीटियों में मिलता हैं । वे सब इकठी होकर कठिन से कठिन काम को बड़ी से आसानी से कर लेती है । इसी तरह एक उदाहरण हमें मधुमक्खियों में मिलता है जो मिलजुल कर शहद इकठा कर लेती है ।

जब महात्मा गांधी जी ने असहयोग आंदोलन शुरू किया तो सारा देश एक साथ मिलकर गांधी जी के साथ चल पड़ा । परन्तु आज कुछ लोग अपने स्वार्थ के लिए भाषा ,जाति। धर्म आदि की दीवारे खड़ी करते हैं जिससे देश की एकता को ठेस पहुँचती है ।