Doordarshan Hindi Essay दूरदर्शन के लाभ और हानियां

Doordarshan Hindi Essay दूरदर्शन के लाभ और हानियां
1060 votes, 3.96 avg. Essay rating (79% score)

Doordarshan ke laabh aur haniyaan

How to write an essay on Doordarshan

Sample essay about Doordarshan is given as follows

दूरदर्शन विज्ञान का अद्भुत चमत्कार है । सन 1901 में मारकोनी नामक वैज्ञानिक ने रेडियो का अविष्कार किया था । इसकी सहायता से हम देश विदेश में होने वाले कार्यक्रम सुन सकते है।टीवी रेडियो का विकसित रूप है । सन 1926 में जे एल ब्रेयर्ड ने लोगों को टेलीविजन से परिचित कराया । 1959 को दिल्ली में पहला दूरदर्शन केन्द्र स्थापित किया गया । आज दूरदर्शन मनोरंजन का एक लोकप्रिय साधन बन गया है ।

दूरदर्शन के काफी लाभ हैं । इसमें प्रसारित होने वाले कार्यक्रमों से दर्शन सीधे प्रभावित होते हैं । नाटक, संगीत, कला आदि से लोगों में सांस्कृतिक रूचि विकसित होती है। खेलों के सीधे प्रसारण से युवा वर्ग में खेलों के प्रति रूचि बढ़ती है । धार्मिक कार्यक्रम हमें हमारी संस्कृति और धर्म से परिचित कराते हैं ।

दूरदर्शन की हानियां भी हैं । लोग अपना बहुत सा समय टीवी देखने में खर्च कर देते हैं। ज्यादा समय टीवी देखने से लोगों में आपसी मेलजोल कम हो जाता है। इससे मनुष्य के सामाजिक जीवन पर बुरा प्रभाव पड़ता है। विद्यार्थियों की पढ़ाई में बाधा आती है। अधिक टीवी देखने से आँखें कमजोर होती हैं।

अतः एक निर्धारित समय पर ही टीवी देखना चाहिए जिससे कोई हानि न हो ।


Paragraph about Television

Television is an astonishing discovery of Science. Marconi invented the radio in 1901, by using which we can listen to the broadcasts across continents. Television is an advanced version of radio, which enables us to see images along with audio. Baird introduced the concept of television in 1926. In India, the first Doordarshan kendra was established in 1959 in Delhi. Doordarshan is now a popular medium of entertainment.

There are many advantages of Television. Audiences are directly influenced by the programs which are broadcast on television. Plays, Serials, music, art related programs help to develop the cultural values. Telecast of matches helps to increase the level of interest in sports. Religious programmes help to promote social & religious causes.

On the other hand, Television has its demerits also. People waste a lot of their time in watching television. This reduces the social bonding and adversely affects the social life as a whole. Students are unable to concentrate on studies because of their favorite programs on television. Excessive television viewing weakens the eye muscles.

To sum up, television has its merits as well as demerits. Watching the television in a responsible manner is necessary so as to avoid its perils.