Black Money Hindi Essay | काला धन – समस्या और निराकरण

Black Money Hindi Essay | काला धन – समस्या और निराकरण
0 votes, 0.00 avg. Essay rating (0% score)

काला धन – समस्या और निराकरण

 

जिस रुपय को हम काला धन कहते हैं, उसकी आत्मा तथा मान काला है.

“काला धन ” वह धन है जिसे सरकारी टैक्स की अदायगी से बचने के लिए अत्यंत गुप्त और गोपनीय बनाकर रखा जाता है, जिसे विधिवत लिखित रूप में लिपीबध नहीं किया जाता है. देश की अर्थव्यवस्था के लिए काला धन राजसक्षमा रोग की भाँति  है. यदि ठीक से इसका निदान नहीं किया गया तो देश की अर्थव्यवस्था को चौपट करने रसातल की और ले जाएगा. देश की प्रगती और अर्थव्यवस्था को चौपट करके रसातल की ओर ले जाने वाला काला धन ही होता है.

 

हमारे जीवन में और हमारे आर्थिक व्यापार में उसका कितना बड़ा हाथ है, इसके तरह-तरह के अनुमान लगाए जाते है. एक अर्थशास्त्री के अनुसार तो हमारा आधा आर्थिक व्यापार इस काले धन के बाल पर ही चल रहा है. सबसे भयानक दुश परिणाम यह है कि इसके कारण सरकार की तमाम नीतियाँ निष्फल होती जा रही हैन.सफेद धन कमाने से उसका बड़ा भाग कर के रूप में छिन्न जाता है. सफेद धन को परिश्र्म से कमाया जाता है. काला धन के चंगुल से देश को मुक्त कराने के लिए सरकार द्वारा युध-स्तर पर कारवाई नितांत आव्यशक् है.