BHEEMRAV AMBEDKAR | BR Ambedkar Hindi Biography

BHEEMRAV AMBEDKAR

 

२० वीं शताब्दी में जब भारत देश में छुआ -छूत और जातिवाद का प्रभाव फैला हुआ उसी  दौरान १४ अप्रैल,१८९१ में  बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर का जन्म हुआ था । इनके पिता का नाम रामजी मालोजी सकपाल था  तथा माता का नाम भीमाबाई था । यह एक गरीब अस्पृश्य परिवार के थे ।

 

गायकवाड़ शासक ने सयुंक्त राज्य अमेरिका के कोलंबिया विश्वविधालय में इन्होने अध्ययन के लिए  बाबा भीमराव आंबेडकर का चयन किया। न्यूयॉर्क शहर में आने के बाद आंबेडकर को राजनीति विज्ञानं विभाग के स्नातक अध्ययन कार्यक्रम में प्रवेश दे दिया गया । १९१६ में उन्हें उनके एक शोध के लिए पी.एच. डी से सम्मानित किया गया । इस शोध को उन्होंने अपनी पुस्तक “इवोल्युशन ऑफ़ प्रोविशनल  ब्रिटिश इंडिया ” के रूप में प्रकाशित किया । जब भारत में पहला विश्व युद्ध हुआ तब भीमराव आंबेडकर भारत वापिस आ गए । उन्हें लंदन विश्वविद्यालय द्वारा “डॉक्टर ऑफ़ साइंस “की उपाधि दी गई ।

डॉ. भीमराव आंबेडकर ने भारत के सविंधान के निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान दिया  है । भीमराव आंबेडकर को भारतीय सविधान का जनक भी कहा जाता है । भीमराव आंबेडकर स्वतंत्र भारत के  पहले कानून मंत्री बने थे । भीमराव आंबेडकर को भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान “भारत रतन” से भी सम्मानित किया गया ।

 

१९४८ में आंबेडकर साहेब मधुमेह से पीड़ित हो गए । अपने अन्तिम पाण्डुलिपि बुद्ध और उनके धम्म को पूरा करने के तीन दिन बाद ६ सितम्बर १९५६ को उनका देहांत हो गया  ।