BASAPPA DANAPPA JATTI President Of India – Shri BD Jatti

MR.BASAPPA DANAPPA JATTI

बसप्पा दनप्पा जट्टी स्वतंत्र भारत के छठे राष्ट्रपति   थे । यह एक बेहद नरम स्वभाव के व्यक्ति और कानून के अच्छे ज्ञाता थे । यह एक धार्मिक प्रवृति  वाले मनुष्य थे । इनका जन्म १० सितम्बर १९१२ को जमखंडी तलूक बीजापुर कर्नाटक में हुआ।

  इन्होने मुंबई विश्वविद्यालय से सम्बन्ध राजाराम कॉलेज ,कोल्हा पुर  से कानून की पढ़ाई  पूरी की थी । इसके बाद इन्होने बहुत काम समय के लिए अपने निवासस्थान जमखंडी में वकील के तौर पर प्रैक्टिस की । बसप्पा जट्टी  १९४० में जमखंडी के नगर निगम   के सदस्य के तौर पर  राजनैतिक जीवन की शुरुआत की । कुछ समय  बाद ही वह जमखंडी के विधानसभा सदस्य चुने गए ।एक सप्ताह के  बसप्पा मुख्यमंत्री बी जी खेर के संसदीय सचिव बनाये   गए ।  इस पद पर वह दो  वर्ष ही रहे ।  १९५२ के चुनावो में जीत हासिल करने के  स्वास्थ्य और श्रम विभाग में उप मंत्री नियुक्त किया गया । १९५८ में यह मैसूर के मुख्यमंत्री नियुक्त किये गए ।  निवास स्थान में यह तीसरी बार जितने के बाद इन्हे वित्त मंत्री बनाया गया । इसके बाद  चौथे कार्यकाल मेंइन्हे खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री बनाये गए । १९६८ में यह पुद्दुचेरी के राजयपाल नियुक्त किये गए ।  फिर १९७३ में इन्हे उड़ीसा का राज्य पाल नियुक्त किया गया । फिर इसके बाद १९७४ में बी डी  जट्टी को उपराष्ट्रपति नियुक्त किया गया । इस  उन्होंने १९८०  कार्य किया । १९८० में उन्हें फखरुद्दीन अहमद की मृत्यु के बाद राष्ट्रपति नियुक्त किया गया । इस  पद पर  कार्य करते हुए ७ जून २००२ को बसप्पा दनप्पा जट्टी का निधन हो गया ।